Breaking

Wednesday, April 1, 2020

DIGITAL MARKETING Your Way To Success

DIGITAL MARKETING Your Way To Success

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स 2020
प्रिय दोस्तों,

आज दुनियाँ में लगभग 7.5 अरब की जनसंख्या है।और प्रत्येक व्यक्ति को जीवन व्यापन करने के लिए धन की आवश्यकता पड़ती है। परन्तु क्या प्रत्येक व्यक्ति के पास बहुत सारा धन है? तो में कहूंगा नहीं। लेकिन धन कामना तो हर किसी की इच्छा होती है। पर ऐसा प्रत्येक के लिए संभव नहीं है। यहीं पर आज के समय में यदि हम ऐसा कोई सिस्टम तैयार करे की हम बहुत सारा धन कमा सके तो में कहूंगा बिलकुल आसान है। जी हाँ यदि हम डिजिटल मार्केटिंग को करना खीख ले तो हम अच्छा धन कमा सकते है।
तो आइये जानते है क्या होती है डिजिटल मार्केटिंग और कैसे की जाती है डिजिटल मार्केटिंग। दोस्तों इस ईबुक के माध्यम से में आपको 50000 रूपये का कोर्स बहुत ही कम रूपये में बताऊंगा l
जब हम कोई भी बिज़नेस करते है तो उसका प्रमोशन होना, मेरा मतलब ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुँचाना होता है। तभी वो बिज़नेस अच्छी ऊंचाइयों को हांसिल करता है। और किसी भी बिज़नेस को यदि इंटरनेट के माध्यम से लोगो तक पहुँचाया जाये तो हम इसे डिजिटल मार्केटिंग कहते है।
डिजिटल मार्केटिंग को सीखने के लिए निचे दिए गए टिप्स को ध्यान से पढ़ना होगा।

अनुक्रम:
डिजिटल मार्केटिंग क्या है?
डिजिटल मार्केटिंग में 5D
डिजिटल मार्केटिंग ही क्यों?
डिजिटल मार्केटिंग कैसे काम करती है?
डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार
डिजिटल मार्केटिंग में मार्केटिंग चैनल

आपके व्यवसाय के लिए डिजिटल मार्केटिंग की भूमिका क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

आज के समय में सब ऑनलाइन हो गया है। इंटरनेट ने हमारे जीवन को बेहतर बनाया है और हम इसके माध्यम से कई सुविधाओं का आनंद केवल फ़ोन या लैपटॉप के ज़रिये ले सकते है।
Online shopping, Ticket booking, Recharges, Bill payments, Online Transactions (ऑनलाइन शॉपिंग, टिकट बुकिंग, रिचार्ज, बिल पेमेंट, ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स) आदि जैसे कई काम हम इंटरनेट के ज़रिये कर सकते है इंटरनेट के प्रति Users के इस  रुझान की वजह से बिज़नेस Digital Marketing (डिजिटल मार्केटिंग) को अपना रहे है
यदि हम market की ओर नज़र डालें तो लगभग 80% shoppers किसी की product को खरीदने से पहले या service लेने से पहले online research करते है ऐसे में किसी भी कंपनी या बिज़नेस के लिए डिजिटल मार्केटिंग महत्वपूर्ण हो जाती है। 
डिजिटल मार्केटिंग में उन सभी मार्केटिंग प्रयासों को शामिल किया जाता है जो इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों या इंटरनेट का उपयोग करके आपके उत्पाद या ब्रांड को बढ़ावा देते हैं। यह वर्तमान और भावी ग्राहकों से जुड़ने के लिए ऑनलाइन

मार्केटिंग रणनीति जैसे सर्च मार्केटिंग, ईमेल मार्केटिंग, सोशल मीडिया मार्केटिंग और मोबाइल मार्केटिंग का लाभ उठाता है।
अपनी वस्तुएं और सेवाओं की डिजिटल साधनो से मार्केटिंग करने की प्रतिक्रिया को डिजिटल मार्केटिंग कहते है ।डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट के माध्यम से करते हैं इंटरनेट, कंप्यूटर, मोबाइल फ़ोन , लैपटॉप , website adertisements या किसी और applications द्वारा हम इससे जुड सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग नये ग्राहकों तक पहुंचने का सरल माध्यम है। यह विपणन गतिविधियों को पूरा करता है। इसे ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहा जा सकता है। कम समय में अधिक लोगों तक पहुंच कर विपणन करना डिजिटल मार्केटिंग है।
डिजिटल मार्केटिंग से उत्पादक अपने ग्राहक तक पहुंचने के साथ ही साथ उनकी गतिविधियों, उनकी आवश्यकताओं पर भी दृष्टी रख सकता है। ग्राहकों का रुझान किस तरफ है, ग्राहक क्या चाह रहा है, इन सभी पर विवेचना डिजिटल मार्केटिंग के द्वारा की जा सकती है। सरल भाषा में कहें तो डिजिटल मार्केटिंग डिजिटल तकनीक द्वारा ग्राहकों तक पहुंचने का एक माध्यम है।

हम डिजिटल मार्केटिंग को एक उदाहरण से समझते है।

रोहन एक कपड़े की दुकान चलता है। रोहन ने सोचा क्यों ना इस बिज़नेस को ऑनलाइन कर दिया जाये ताकि ज्यादा मुनाफा कमा सके।

ऐसा करने के लिए रोहन को एक अच्छी वेबसाइट की जरूरत होगी। ताकि उस वेबसाइट पर अपने सभी प्रकार के शेडूल को दर्शा सके। और अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग सही तरीके से कर सके।


को अपने बिज़नेस को ऑनलाइन करने के लिए एक अच्छे डिजिटल मार्केटर की जरूरत पड़ेगी। यदि आप एक अच्छे डिजिटल मार्केटर हो तो आप रोहन के बिज़नेस को एक अच्छी ऊंचाई तक पहुंचा सकते हो, इसके लिए आप रोहन से 40,000 रूपय महीने का प्राप्त कर सकते है लेकिन ऐसा तभी होगा जब आप डिजिटल मार्केटिंग जानते हो।

डिजिटल मार्केटिंग में 5D

डिजिटल मार्केटिंग में 5D उपभोक्ताओं के लिए ब्रांडों के साथ बातचीत करने और व्यवसायों के लिए विभिन्न तरीकों से अपने दर्शकों तक पहुंचने के अवसरों को परिभाषित करता है। डिजिटल विपणन के 5D निचे दिए हैं -

डिजिटल डिवाइस - आपके उपभोगता आपके ब्रांडों का अनुभव करते हैं क्योंकि वे मोबाइल फोन, डेस्कटॉप, टैबलेट, टीवी और गेमिंग उपकरणों सहित डिजिटल उपकरणों के माध्यम से वेबसाइटों के साथ जुड़े होते है।

डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म - डिजिटल डिवाइस पर अधिकांश इंटरैक्शन ब्राउज़र या एप्लिकेशन जैसे Google, फेसबुक, इंस्टाग्राम, टिकटोक, यूट्यूब, ट्विटर और लिंक्डइन जैसे प्रमुख प्लेटफार्मों से होता है।

डिजिटल मीडिया - अपने उपभोगताओं तक पहुंचने और जुड़ने के लिए विभिन्न स्वामित्व, भुगतान और अर्जित संचार चैनल।

डिजिटल डेटा - अंतर्दृष्टि जो व्यवसायों को उनके दर्शकों और व्यवसायों के साथ उनकी बातचीत के बारे में एकत्र करती है।
डिजिटल तकनीक - व्यवसाय वेबसाइटों और एप्लिकेशन से इन-स्टोर कियोस्क और ईमेल अभियानों के लिए इंटरैक्टिव अनुभव बनाने के लिए उपयोग करते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग क्यों?

यह आधुनिकता का दौर है और इस आधुनिक समय में हर वस्तु में आधुनिककरन हुआ है। इसी क्रम में इंटरनेट भी इसी आधुनिकता का हिस्सा है जो जंगल की आग की तरह सभी जगह व्याप्त है। डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट के माध्यम से कार्य करने में सक्षम है।

आज का समाज समय अल्पता से जूझ रहा है, इसलिये डिजिटल मार्केटिंग आवश्यक हो गया है। हर व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ा है वे इसका उपयोग हर स्थान पर आसानी से कर सकता  है अगर आप किसी से मिलने को कहो तो वे कहेगा मेरे पास समय नही है, परंतु सोशल साइट पर उसे आपसे बात करने में कोई समस्या नही होगी इन्ही सब बातों को देखते हुए डिजिटल मार्केटिंग इस दौर में अपनी जगह बना रहा है

हालांकि पारंपरिक विपणन प्रिंट विज्ञापनों, फोन संचार या भौतिक विपणन में मौजूद हो सकता है, लेकिन डिजिटल मार्केटिंग इलेक्ट्रॉनिक और ऑनलाइन होती है। इसका मतलब है कि वीडियो, ईमेल, सोशल मीडिया या वेबसाइट-आधारित मार्केटिंग के अवसरों सहित ब्रांडों के लिए अंतहीन संभावनाएं हैं।

चूंकि डिजिटल मार्केटिंग में इससे जुड़े कई विकल्प और रणनीतियाँ हैं, इसलिए आप विभिन्न प्रकार के मार्केटिंग अभियानों के साथ रचनात्मक और प्रयोग कर सकते हैं। डिजिटल मार्केटिंग के साथ, आप अपने अभियानों की सफलता और ROI की निगरानी के लिए एनालिटिक्स टूल का भी उपयोग कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग कैसे काम करती है?

डिजिटल मार्केटिंग पारंपरिक मार्केटिंग से अलग नहीं है। दोनों को संभावनाओं, लीड्स और ग्राहकों के साथ पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंधों को विकसित करने के लिए स्मार्ट संगठनों की आवश्यकता होती है। फिर भी, डिजिटल मार्केटिंग ने अधिकांश पारंपरिक विपणन रणनीति की जगह ले ली है क्योंकि इसे आज के उपभोक्ताओं तक पहुंचने के लिए डिज़ाइन किया गया है।
आपके द्वारा की गई अंतिम महत्वपूर्ण खरीद के बारे में सोचें। खरीदने से पहले, आपने शायद उस उत्पाद के बारे में जानने के लिए इंटरनेट खोजा होगा जिसे आप चाहते थे और आपके सबसे अच्छे विकल्प क्या थे। और आपका अंतिम क्रय निर्णय आपके द्वारा शोध किए गए ग्राहक समीक्षाओं, सुविधाओं और मूल्य निर्धारण पर आधारित होता।
खरीद के फैसले आज से ऑनलाइन शुरू होते हैं। इसलिए, आप जो भी बेचते हैं, उसकी परवाह किए बिना एक ऑनलाइन उपस्थिति आवश्यक है।
आपको एक विपणन रणनीति बनाने की आवश्यकता है जो आपको उन स्थानों पर रखती है जहां आपके अनुयायी पहले से ही लटके हुए हैं और आपको उनके साथ कई तरीकों से जोड़ता है, जैसे -
उन्हें उद्योग समाचार के साथ अद्यतन रखने के लिए सामग्री प्रदान करना
सोशल मीडिया उस सामग्री को साझा करता है और दर्शकों के साथ मित्रों और अनुयायियों के रूप में संलग्न होता है
खोज इंजन अनुकूलन आपकी सामग्री का अनुकूलन करता है, इसलिए यह दिखाता है कि कोई व्यक्ति आपके द्वारा लिखी गई जानकारी को खोजता है
विज्ञापन ड्राइव ने आपकी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक का भुगतान किया, जहां लोग आपके ऑफ़र पा सकते हैं
ईमेल मार्केटिंग आपके श्रोताओं के साथ इस बात का पालन करती है कि वे उन समाधानों को प्राप्त करना जारी रखें जिनकी वे तलाश कर रहे हैं



जब आप इन सभी टुकड़ों को एक साथ रखते हैं, तो आपको एक कुशल, आसानी से संचालित होने वाली डिजिटल मार्केटिंग मशीन मिलती है। यद्यपि यह उस मशीन को खरोंच से बनाने के लिए डराने वाला लगता है, यह एक समय में एक डिजिटल मार्केटिंग रणनीति को सीखने और एकीकृत करने के समान सरल है।

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार

Digital Marketing के मुख्य Assets और Tactics क्या हैं?
यहाँ पर हम Digital Marketing के कुछ ऐसे assets और tactics के बारे में जानेंगे जिन्हें आप शायद जानते भी हों.
Digital Marketing
के Assets
·         आपकी website
·         आपके Blog posts
·         Ebooks और whitepapers
·         Infographics
·         Interactive tools
·         Social media channels (Facebook, LinkedIn, Twitter, Instagram, etc.)
·         Earned online coverage (PR, social media, और reviews)
·         Online brochures और lookbooks
·         Branding assets (logos, fonts, etc.)
Digital Marketing के Tactics
यहाँ पर हम कुछ Digital Marketing के tactics के बारे में चर्चा करेंगे.
1.    Search Engine Optimization (SEO)
यह एक ऐसा system है जिसकी मदद से Website को optimize किया जाता है जिससे की ये अच्छा और बेहतर rank हो जिससे अच्छी Organic Traffic website पर खुदबखुद आये. इसके साथ ये Search Result में भी सबसे पहले show करे.
SEO सामग्री, तकनीकी सेट-अप और आपकी Website की पहुंच को अनुकूलित करने की प्रक्रिया है, ताकि आपके पृष्ठ विशिष्ट कीवर्ड के लिए खोज इंजन परिणाम के शीर्ष पर दिखाई दें। अंतिम लक्ष्य आपकी वेबसाइट पर आगंतुकों को आकर्षित करना है जब वे आपके व्यवसाय से संबंधित उत्पादों या सेवाओं की खोज करते हैं।
SEO एक उपयोगकर्ता के अनुकूल वेबसाइट, मूल्यवान और आकर्षक सामग्री, और अन्य वेबसाइटों और आगंतुकों के लिए विश्वसनीयता की आवश्यकता को आपकी वेबसाइट से जोड़कर या आपको उनके सोशल मीडिया पोस्ट में टैग करने की सिफारिश
करता है। आपकी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक उत्पन्न करने के लिए एसईओ से संपर्क करने के कई तरीके हैं। इसमें शामिल है -

ऑन-पेज SEO: यह उस सामग्री पर केंद्रित है जो एक वेबसाइट पर "पृष्ठ पर" मौजूद है। उनके खोज मात्रा और अभिप्राय (या अर्थ) के लिए खोजशब्दों पर शोध करके, आप पाठकों के लिए सवालों के जवाब दे सकते हैं और खोज इंजन परिणाम पृष्ठों (SERPs) पर उच्च रैंक कर सकते हैं जो प्रश्न उत्पन्न करते हैं।

ऑफ-पेज SEO: यह उन सभी गतिविधियों पर ध्यान केंद्रित करता है जो आपकी वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए "पेज से बाहर" होती हैं। ये कौन सी गतिविधियाँ हैं जो ऑन-पेज नहीं हैं लेकिन आपकी रैंकिंग को प्रभावित करती हैं? जवाब "बैकलिंक्स" है। उन प्रकाशकों की संख्या, जो आपको और उन प्रकाशकों के संबंधित "अधिकार" से जोड़ते हैं, यह प्रभावित करते हैं कि आप अपने विशिष्ट कीवर्ड के लिए कैसे रैंक करते हैं। आप अन्य प्रकाशकों के साथ नेटवर्किंग करके, इन वेबसाइटों पर अतिथि पोस्ट लिखकर, और बाहरी ध्यान उत्पन्न करके बैकलिंक्स कमा सकते हैं।
तकनीकी एसईओ: यह आपकी वेबसाइट के बैकएंड पर केंद्रित है। छवि संपीड़न, सीएसएस फ़ाइल अनुकूलन और संरचित डेटा तकनीकी एसईओ के विभिन्न रूप हैं जो आपकी वेबसाइट की लोडिंग गति को बढ़ा सकते हैं जो कि खोज इंजन के लिए एक महत्वपूर्ण रैंकिंग कारक है।


2.    Content Marketing
Content Assets
की creation और promotion जिससे की सही तरीके से brand awareness, traffic growth, lead generation किया जा सकता है.
क्या आपने कहावत सुनी है, Content is king?" Quality content वह fuel है जो आपकी डिजिटल मार्केटिंग रणनीतियों को संचालित करता है। कंटेंट मार्केटिंग ब्रांड अवेयरनेस, लीड जनरेशन, ट्रैफिक ग्रोथ और ग्राहकों को उत्पन्न करने के लिए कंटेंट एसेट्स के निर्माण और प्रचार को दर्शाता है। आपके कंटेंट मार्केटिंग में हिस्सा लेने वाले चैनलों में शामिल हैं:


Videos: YouTube अब इंटरनेट पर दूसरा सबसे बड़ा खोज इंजन है और वीडियो पूरी तरह से डिजिटल मार्केटिंग की दुनिया में ले जा रहे हैं। कंटेंट मार्केटिंग में वीडियो का उपयोग बढ़ रहा है और यह निश्चित रूप से आपके कंटेंट मार्केटिंग प्लान में फ्रंट रनर की स्थिति की मांग करता है। इसका एक कारण यह है कि वीडियो अधिक ग्राहकों को परिवर्तित करते हैं। हाल ही की एक रिपोर्ट से पता चलता है कि 71% बाज़ारियों का कहना है कि वीडियो रूपांतरण दरें अन्य विपणन सामग्री को बेहतर बनाती हैं।
Blog posts: कंपनी ब्लॉग पर लेख लिखना और प्रकाशित करना आपकी उद्योग विशेषज्ञता को प्रदर्शित करने और आपकी वेबसाइट के लिए जैविक खोज ट्रैफ़िक उत्पन्न करने में आपकी सहायता करता है। यह आपको वेबसाइट विज़िटर को लीड में बदलने का अवसर देता है।
Ebooks and whitepapers-बुक्स, व्हाइटपेपर और इसी तरह के लंबे फॉर्म कंटेंट वेबसाइट विजिटर्स को शिक्षित करने में मदद करते हैं। यह आपको एक पाठक की संपर्क जानकारी के लिए सामग्री का आदान-प्रदान करने की अनुमति देता है, जिससे आपकी कंपनी का नेतृत्व होता है।

Infographics: इन्फोग्राफिक्स दृश्य सामग्री का एक रूप है जो आपकी वेबसाइट के आगंतुकों को एक अवधारणा की कल्पना करने में मदद करता है जिसे आप उन्हें सीखने में मदद करना चाहते हैं।
ऐसी सामग्री बनाना जो प्रचारक नहीं है, बल्कि शिक्षित और प्रेरित करती है, कठिन है लेकिन प्रयास के लायक है। प्रासंगिक सामग्री की पेशकश करने से आपके दर्शकों को आपकी जानकारी के मूल्यवान स्रोत के रूप में लेने में मदद मिलती है।
3.    Inbound Marketing
Inbound marketing
का मतलब ही एक full-funnel approach होता है जिसमें की Online Content के इस्तमाल से उन्हें attract करने के लिए, convert करने के लिए, closing करने के लिए और आखिरकर अपने Customers को Delight करने के लिए किया जाता है.
4.    Social Media Marketing
इस marketing में अपने brand को और अपने contents को Social Media Channel में Promote किया जाता है जिससे की brand awareness, drive traffic, और leads बढे खुद के business की.
Social Media Marketing Online Marketing के लिए सबसे Best तरीका है. इसलिए आज कल Marketing के लिए सबसे ज्यादा social sites को use किया जाता है. Social Marketing के जरिये आप अपने Blog, Business, या किसी Product को easily से promote कर सकते हो।

SMM internet marketing की एक form है और इसे आप online Marketing Tool, या Digital marketing भी कह सकते है.

यानी अगर हम simple language में कहे तो social sites पर हम अपनी blog, Brand या product को promote करने के लिए जो भी strategy apply करते है उसे social media marketing कहते है।
Social Media Marketing में बहुत सी activities शामिल है जैसे, Text, image Video Infographic post करना etc. आप किसी भी तराह अपनी content को promote कर सकते हो।

जैसे मानलो आपने अपनी blog की एक post को किसी social sites पर share किया था और उसे आपको Blog के लिए 200 visitors मिले यानी आपने जिस link को social sites पर share किया था उस link पर click करके आपकी blog पर visitors आते है तो इस process को social media marketing कहते है।
Online marketing की यही aim होती है कि ज्यादा से ज्यादा visitor or customers को अपनी तरफ attract करना. जिससे visitors आपकी brand को देखे और आपकी products को buy करे. या फिर visitors आपकी blog पर visit करे जिसे blog की traffic, Ranking और Revenue increase हो।

Social Media मार्केटिंग क्यों जरुरी है ?

जैसे कि आप जानते होंगे कि social sites Internet पर ऐसी place है जिसने internet से भी ज्यादा fast grow की है. और आज शिर्फ़ India में ही करीब 0.25 billion यानी 250 million and Indian count में 25+ crores log social media use करते है।
और any time social media sites पर आपको लाखो लोग online मिलेंगे. जिसपर अगर आप कुछ भी share करोगे तो भी बहुत से user’s को आपकी content show होती है।
तो जरा सोचिए अगर आप social sites पर marketing करोगे तो आप कितने लोगों को अपनी products show कर सकते है? और कितने visitors आप अपनी blog पर send कर सकते हो?
पहले marketing करने के लिए Newspaper, TV, Posters शिर्फ़ यही option थे. जिसे किसी भी company को grow करने में बहुत time लग जाता था.
But अभी अपने product को marketing करने के लिए internet सबसे best Place है. और social media sites से आप Unbelievable visitors और customers received कर सकते हो।
यानी किसी भी Online or Offline business को fastest Grow करने में सबसे ज्यादा helpful है social media marketing. और Social media पर marketing करके आज बहुत से company ने अपने earning को पहले से बहुत गुना increase की है.
और SMM के लिए आपको more money invest करने की भी कोई जरूरत नही. Because social sites पर आप Free और Paid दोनों तराह से अपनी Content की Marketing कर सकते हो. और अगर आप invest करना चाहो तो भी आप starting में 100, 200 Rupees से start कर सकते हो।

Social Media मार्केटिंग करने के लिए बेस्ट वेबसाइट :
Online Marketing के लिए Social media as marketing tool सबसे Best Choice है. चलिए अब जानते है कुछ ऐसे popular social sites के बारे में जहा पर marketing करके आप अपनी business को बहुत ही fast grow कर सकते हो.




Facebook
World की सबसे popular social network site है Facebook. जहा पर anytime आपको million users active मिलेंगे. और अगर आप शिर्फ़ India जो कि second-largest online market हे यहा पर भी आपको monthly 241 million + active users मिलेंगे।
और Facebook पर marketing के लिए आपको Facebook Tips & Tricks के बारे में जानना होगा. और अपनी Brand की एक page create करना होगा फिर आप इसपर free और paid जैसे भी अपनी blog या product की promotion कर सकते हो।
और Advertising on Facebook के जरिये आप लाखो visitors या Customers Recived कर सकते हो.

Twitter
ये भि एक बहुत ही बढ़िया social networking sites है. इसपर आप 140 character में अपनी products के बारे में बता सकते हो. और अपनी Brand को अपने followers को show करके अपनी content को promotion कर सकते हो.

LikedIn
LikedIn के बारे में आप जानते ही होंगे. ये भी एक professional network site है. और इसपर आपको शिर्फ़ professional लोग ही ज्यादा मिलेंगे. तो इस social media site पर भी आप अपनी content को promote करके अपनी business की Promotion कर सकते है.

YouTube
Digital marketing के लिए के लिए YouTube भी एक बहुत ही बढ़िया social media site है. इसपर आप अपनी blog को promote करने के लिए video create करे और videos पर अपनी products के बारे में बताए. जिसे आप बहुत से

लोगो को attract कर सकते हो. और अपनी blog पर traffic भी increase कर सकते हो.

Pinterest
अपने content की image create करके अगर आप pinterest site पर share करेंगे तो भी आप बहुत से users को अपनी business के बारे में बता सकते है. Pinterest पर marketing करने लिए आपको इसपर अपनी content की infographics type की image create करके share करना होगा. इसे आप बहुत से visitors को attract कर सकते हो।

Instagram
Instagram भी एक बहुत ही popular photo sharing social site है. इसपर  आप अपनी content की images, Video share करे. जिससे भी आप बहुत से unique visitors received कर सकते हो अपनी blog पर

तो ये थी कुछ popular Social sites जिनपर आप अपनी blog की Advertisement कर सकते हो। और अपनी products की selling increase कर सकते है।

5.    Pay-Per-Click (PPC)
ये एक ऐसा method है अपने website के तरफ traffic को drive किया जाता है जिसमें की आपको अपने publisher को पैसे देने होते हैं अगर आपके ads में click हों तब. एक बहुत ही popular PPC है Google AdWords.

Pay Per Click क्या है ?
आज के इस इन्टरनेट के युग में हर कोई अपना बिजनेस ऑनलाइन करना चाहता है, हर किसी की नजर अपने साथी व्यापारी से दो कदम आगे रहने की है ऐसे में तेजी से बढ़ती टेक्नोलॉजी में Digital Marketing की अहम् भूमिका है। में विस्तार से Pay Per Click क्या है ?  PPC क्यों इस्तेमाल किया जाता है ? PPC के क्या फायदे है ? इसके सभी पहलुओं से रूबरू
करायेंगे।  यदि आप कोई बिजनेसमैन या ब्लॉगर है और अपने प्रोडक्ट व सर्विस को ऑनलाइन प्रोमोट करना चाहते हैं तो यह जानकारी आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण सिद्ध होगी।  
Pay Per Click क्या है इस पर विस्तार से बात करने से पहले हम बात करते है Marketing की।  जैसा की हम सभी जानते है कोई भी ऑनलाइन या ऑफलाइन व्यापार बिना किसी Marketing यानी विज्ञापन आदि के नहीं चल सकता।  यदि आप अपनी कोई भी सर्विस या product बेचते है तो उसके लिए आपको मार्केटिंग की जरूरत पडती ही है, ताकि सभी लोग आपके बारे में जान सकें। जिसके लिए हम सभी तरह तरह के रास्ते अपनाते है और काफी खर्च भी उठाना पड़ता है.

 Ofline Marketing की बात करें तो हमने अक्सर ही अपने आस पास कई प्रकार के पोस्टर्स , बैनर्स , होर्डिंग्स आदि लगे हुए देखें है।  कई बार लोग स्पीकर्स या फिर रेडियो, टीवी जैसे विज्ञापनों का सहारा भी लेते है।  लेकिन यह सब मार्केटिंग के रास्ते अब समय के साथ साथ पुराने हो चुके है, जिनमे अधिक खर्च किन्तु कम फायदा मिलता है।  जिसके कारण सभी लोगों का फोकस अब ऑनलाइन Marketing पर होता जा रहा है जो की सस्ता व अपने विज्ञापन को दूसरों के सामने रखने का बेहतरीन विकल्प है।
हो सकता है आपके मन में सवाल उठे की ऑनलाइन Marketing सस्ता विकल्प कैसे है ? तो आगे बढने से पहले आपको समझा दें Ofline Marketing में आपको एक निर्धारित रकम देनी ही होती है फिर चाहे उस विज्ञापन को देख कर कोई आपकी सर्विस को खरीदे या नहीं। ऑफलाइन मार्केटिंग में जरूरी नहीं है की विज्ञापन देखने वाला व्यक्ति आपके प्रोडक्ट या सर्विस में इच्छा रखता भी हो, लेकिन Online Marketing में आपके पास यह विशेष विकल्प है की आप अपना विज्ञापन उन्ही लोगों को दिखा सकते है जो आपके जैसे प्रोडक्ट्स की तलाश कर रहे हो या फिर उन्हें आपके जैसी सर्विस की ही जरूरत हो. जिस से फायदा यह होता है की आपका विज्ञापन सही लोगों तक पहुचता है और आपके विज्ञापन पर हुए खर्च के बदले आपको क्लाइंट्स मिलने की सम्भावना कई गुना अधिक हो जाती है।

आइये अब विस्तार से बात करते है Online Marketing के लिए अहम् PPC यानी Pay Per Click क्या है ?

Pay Per Click क्या है ?

अभी तक दी गयी जानकारी से आप सभी को यह अंदाजा तो हो गया होगा की PPC यानी Pay Per Click ऑनलाइन मार्केटिंग की ही एक कड़ी है।  जिसके बिना Online विज्ञापन सम्भव नहीं है।  आपने अपनी रोज की जिन्दगी में PPC Advertising को काफी नजदीक से भी देखा होगा।  आइये हम बताते है कैसे-
आप जब भी गूगल पर अपनी कुछ query सर्च करते है तो हमेशा ही प्राप्त हुए रिजल्ट्स में कुछ लिंक्स ऐसे भी होते है जिन पर साइड में छोटा सा AD लिख कर आता है।  यानी की कोई कम्पनी या website अपनी उस सर्विस या प्रोडक्ट का विज्ञापन कर रही है।  उस कम्पनी या वेबसाइट ने अपने लिंक को ऊपर लाने के लिए जिस रास्ते को अपनाया है उसे ही डिजिटल मार्केटिंग की दुनिया में PPC या Pay Per Click कहा जाता है।

Pay Per Click को नाम से समझें तो आसानी से हम मतलब निकाल सकते है की प्रति क्लिक भुगतान यानी ऐसा विज्ञापन जिसके लिए आपको तभी भुगतान करना है जब कोई आपके उस विज्ञापन पर क्लिक करे अन्यथा नहीं।
6.    Affiliate Marketing
यह एक performance-based advertising होती है जिसमें की आपको commission मिलता है अगर आपने किसी दुसरे की Products और services को अपने website में promote कर रहे हैं तब.
Affiliate Marketing क्या है? कैसे काम करे इसमें।


Affiliate Marketing, marketing का एक ऐसा तरीका है, जिसमे कोई व्यक्ति अपने किसी source, जैसे कि ब्लॉग या वेबसाइट के द्वारा, किसी अन्य कंपनी या organization के products को प्रमोट करता है या recommend करता है। इसके बदले में वह कंपनी या आर्गेनाईजेशन उस व्यक्ति को कुछ commission देती है। अलग-अलग products के हिसाब से अलग-अलग commission होती है। यह commission sale का कुछ प्रतिशत हिस्सा भी हो सकती है या कुछ निश्चित राशी भी। यह products कुछ भी हो सकते हैं, web hosting से लेकर कपड़ों या electronics तक।

Affiliate Marketing कैसे काम करती है ?
जो कंपनी या संगठन अपने उत्पादों को बढ़ावा देना चाहता है, वह अपना संबद्ध कार्यक्रम प्रदान करता है। अब कोई भी अन्य व्यक्ति जैसे ब्लॉग या वेबसाइट का मालिक उस कार्यक्रम में शामिल होता है, तो कंपनी या संगठन उसे अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर अपने उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए एक बैनर या लिंक आदि देता है। अब अगले चरण में, वह व्यक्ति अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर उस लिंक या बैनर को अलग तरह से लेता है। अब उस व्यक्ति के ब्लॉग या वेबसाइट को बहुत सारे विज़िटर मिलते हैं। जब कोई आगंतुक उस लिंक या बैनर पर क्लिक करता है, तो संबद्ध कार्यक्रम की पेशकश करने वाली कंपनी या संगठन की वेबसाइट पर पहुंचता है और सेवा के लिए कुछ खरीदता है या साइन अप करता है, कंपनी या संगठन उसे बदले में कमीशन देता है।

Affiliate Marketing से सम्बंधित definitions.
इस topic को deeply समझने के लिए इन definitions को जानिए।

Affiliates: Affiliates उन्हें कहा जाता है जो व्यक्ति किसी Affiliate program को join करके, उनके products को अपने sources जैसे की blog या website पर promote करते हैं।


Affiliate Marketplace: कुछ ऐसी companies है जो अलग-अलग विषयों में Affiliate Programs offer करती हैं, उन्हें Affiliate Marketplace कहा जाता है।

Affiliate ID: Affiliate Programs के द्वारा हर एक Affiliate को एक unique ID दी जाती है, जो Sales me जानकारियां जुटाने में help करती है।

Affiliate link: हर एक Affiliate को अलग-अलग products की प्रमोशन के लिए कुछ links provide किये जाते हैं, जिन पर click करके Visitors किसी अन्य website पर पहुँचते हैं, जहाँ वह कोई प्रोडक्ट खरीद सकते है। इन links के द्वारा ही Affiliate program वाले सेल्स को track करते है।

Commission: वह राशि (Amount), जो Affiliate को प्रत्येक sale के हिसाब से प्रदान की जाती है। यह sale का कुछ percent हो सकती है या पहले से निश्चित कोई राशि।

Link Clocking: जादातर Affiliate links लंबे और दिखने में अजीब से लगते है। ऐसे links को URL shortners का प्रयोग करके छोटा करना।
Affiliate मैनेजर: कुछ Affiliate programs के द्वारा Affiliates की मदद के लिए और उन्हें सुझाव (टिप्स) देने के लिए कुछ व्यक्ति नियुक्त किये जाते है, वे Affiliate मेनेजर कहलाते हैं।
Payment Mode: इसका अर्थ है की वह माध्यम (medium) जिसके द्वारा आपको आपकी commission दी जायेगी। अलग-अलग Affiliates अलग-अलग modes offer करते हैं। जैसे कि cheque, wire transfer, PayPal इत्यादि।

Payment Threshold: वह न्यूनतम (minimum) राशि जिसे जब आप earn कर लेंगे तो आपको आपकी बनती payment की जायेगी। अलग-अलग programs की payment threshold राशि अलग-अलग होती है।

Affiliate Marketing से सम्बंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रशन (Frequently Asked Questions)


तो चलिए Affiliate Marketing के बारे में इतना सब जान लेने के बाद कुछ ऐसे प्रशनों के उत्तर जानते है जो अक्सर आपके मन में Affiliate Marketing के विषय में सकते हैं।
क्या एक ही  या वेबसाइट पर Affiliate Marketing और Ad Networks जैसे कि Adsense को use किया जा सकता है ?
जी हाँ, Affiliate Marketing और Ad Networks को एक साथ use किया जा सकता है। कई लोगो के लिए Affiliate Marketing ad networks के मुकाबले, कमाई का बढ़िया source है।
क्या Affiliate Marketing के लिए ब्लॉग या वेबसाइट होना जरूरी है ?
जरूरी तो नहीं हैं, परंतु फिर भी Affiliate Marketing से पैसे कमाने का सबसे बढ़िय source, ब्लॉग या वेबसाइट है।
Affiliate Marketing से जुड़ने के लिए क्या कोई खास course इत्यादि करना पड़ता है?
जी नहीं, आपको बस इस के सम्बन्ध में कुछ चीज़ों की knowledge होनी चाहिए। Yadi appko English ati hain, to aap yeh complete eBook kharid sakte hain.
कौन-कौन सी companies या organizations Affiliate programs offer करती है?
देखये हर कोई company या organization Affiliate programs offer नहीं करती। आपको यह पता लगाना होगा की कौन सी companies या organizations यह programs offer करती है।
तो कैसे पता लगाएं की कौन-कौन सी companies या organizations यह programs offer करती है?
Google Search कब काम आएगी, simply उस कंपनी का नाम ‘Affiliate’ word के साथ सर्च करें। इस प्रकार आप जान पाएंगे की वह कंपनी Affiliate Program offer करती है के नहीं। वैसे भी Internet पर ढेरों blogs हैं, जहाँ आप पता कर

सकते है कि कौन सी companies या organizations यह program offer करती है और even की आप उनके बारें में full reviews पढ़ सकते हैं।
7.    Native Advertising
Native advertising
उन advertisements को कहा जाता है जो की मुख्य रूप से content-led होता है और जिन्हें दुसरे platform में featured किया जाता है किसी non-paid content के साथ. BuzzFeed के sponsored posts इस तरह के advertise का अच्छा उधाहरण हैं.
8.    Marketing Automation
Marketing automation
उसे कहा जाता है जिसमें की software या कोई दुसरे tools का इस्तमाल होता है Marketing Promotion के लिए. जिससे की कुछ repetitive tasks जैसे की emails, social media, और दुसरे website actions को automate कर दिया जाता है.
9.    Email Marketing
Companies email marketing
के इस्तमाल से अपने audience के साथ बातचीत करने के लिए उपयोग में लाते हैं. Email का इस्तमाल content, discounts और events को promote करने के लिए किया जाता है.
ईमेल मार्केटिंग क्या है और यह कैसे काम करती है?

ईमेल मार्केटिंग क्या है?
किसी भी प्रकार की मार्केटिंग जिसमें ईमेल का मुख्य रूप से उपयोग किया जाता है, इसे ईमेल मार्केटिंग कहा जाता है। अब इसे उदाहरण से बेहतर समझा जा सकता है। मैंने कुछ उदाहरण भी चुने हैं जो वास्तविक जीवन में ईमेल मार्केटिंग के रूप में उपयोग किए जाते हैं।

मान लीजिए अगर कोई ब्लॉगर है, जिसने बहुत सारे लोगों के ईमेल पते एकत्र किए हैं। अगर वह ब्लॉगर जब भी अपने ब्लॉग पर एक नया ब्लॉग पोस्ट प्रकाशित करता है और उन सभी लोगों को ईमेल के माध्यम से अपना लिंक भेजता है, तो उसके ब्लॉग पर बहुत सारे ट्रैफ़िक आ सकते हैं। यह ईमेल मार्केटिंग का एक जीवंत उदाहरण है।

अब जब भी हम अपने ब्लॉग पर एक नया ब्लॉग पोस्ट प्रकाशित करते हैं, तो ईमेल पते जो हमारे साथ सब्सक्राइब किए जाते हैं, हम उन्हें अपडेट भेजते हैं। दरअसल, हम यह सब मैन्युअल रूप से करते हैं, लेकिन स्वचालित रूप से कुछ ईमेल मार्केटिंग टूल का उपयोग करके नहीं। हम उनके बारे में आगे जानेंगे।

इसके अलावा, ईमेल मार्केटिंग का उपयोग कई अन्य तरीकों से किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, एक सहबद्ध अपने उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए ईमेल विपणन का उपयोग कर सकता है। अगर कोई ईकामर्स वेबसाइट है, तो वह इसका इस्तेमाल अपने ग्राहकों की व्यस्तता बढ़ाने के लिए कर सकता है।

ईमेल मार्केटिंग का उपयोग विभिन्न प्रकार के नोटिफिकेशन प्रदान करने के लिए भी किया जाता है। जैसे आप अपने फेसबुक अकाउंट से अपने ईमेल पर अपडेट लेते रहते हैं। ये सभी ईमेल मार्केटिंग के उदाहरण हैं। इस तरह आप अनुमान लगा सकते हैं कि किसी भी व्यवसाय के लिए ईमेल मार्केटिंग की कितनी आवश्यकता है।

ईमेल मार्केटिंग कैसे काम करती है?
आइए आगे बढ़ते हैं और अब जानते हैं कि ईमेल मार्केटिंग कैसे काम करती है। ईमेल मार्केटिंग करने के तरीके को तीन से चार चरणों में समझा जा सकता है।

पहला कदम यह सुनिश्चित करना है कि हमारे ईमेल के विपणन के पीछे क्या उद्देश्य है: सूचनात्मक, अनुसंधान कार्य या प्रचार। अधिकांश ईमेल मार्केटिंग का उपयोग केवल प्रचार के लिए किया जाता है। ब्लॉगिंग में इसका उपयोग केवल सूचनात्मक या प्रचारक है।

अब अगला चरण ईमेल सूची का निर्माण करना है। यदि आपके पास ईमेल पतों की अच्छी सूची नहीं है, तो आप किसे ईमेल भेजेंगे? तो आप ईमेल मार्केटिंग कैसे करेंगे?

तो सबसे पहले आपको ईमेल लिस्ट बनानी होगी। अब बड़े तरीके हैं, जो स्वाभाविक रूप से ईमेल सूची बनाने का सबसे अच्छा तरीका है। अब कैसे है? एक, हमने आपको पहले ही बता दिया है, अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ईमेल सदस्यता बॉक्स का उपयोग करें। इससे आप ईमेल सूची में अपने ब्लॉग का ट्रैफ़िक बदल सकते हैं। और कई तरीके हैं जैसे विभिन्न स्थानों से ईमेल सूची खरीदना, लेकिन यह एक अप्राकृतिक और स्पैमिंग तरीका है।

एक बार जब आपके पास एक अच्छी ईमेल सूची होगी, तब आप ईमेल मार्केटिंग में सफलता प्राप्त करने का प्रयास कर सकते हैं।

अब बात आती है कि क्या भेजें और कब भेजें। इस पक्ष में, आप बहुत सारे प्रीमियम टूल की मदद कर सकते हैं। जैसे-जैसे ईमेल मार्केटिंग का चलन बढ़ता जा रहा है, कई ईमेल मार्केटिंग टूल भी अस्तित्व में आ गए हैं। आप इन टूल का उपयोग करके अपने ईमेल मार्केटिंग अभियानों को आसानी से प्रबंधित कर सकते हैं। ईमेल विपणन के लिए आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले कुछ सर्वोत्तम उपकरण हैं:

https://www.getresponse.co.uk/
https://mailchimp.com/
https://www.aweber.com/

मैं आपको संक्षेप में बताता हूं कि कैसे एक ब्लॉगर अपने ईमेल ग्राहकों को ईमेल भेज सकता है। सबसे पहले, आपका स्वागत है और ईमेल धन्यवाद, और फिर आपका न्यूज़लेटर या जब भी आप एक नया ब्लॉग पोस्ट प्रकाशित करते हैं, तो इसका एक संक्षिप्त विवरण आपको अपने ब्लॉग पोस्ट के लिंक के साथ भेजा जाना चाहिए।

अब जब भी आपका कोई सब्सक्राइबर उस ईमेल को देखेगा और आपके लिंक पर क्लिक करेगा, तो जाहिर है कि आपके पेज के व्यू बढ़ जाएंगे और आपको अन्य पार्टियों से भी फायदा होगा। तो इस तरह से हमने सीखा कि ईमेल मार्केटिंग कैसे काम करती है।

आप एक शुरुआत ईमेल विपणन के रूप में कैसे शुरू करते हैं?
यदि आप एक शुरुआती हैं और ईमेल मार्केटिंग के साथ शुरुआत करना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ईमेल सदस्यता बॉक्स विजेट रखो। (या सोशल मीडिया जैसे अपनी ईमेल सूची बनाने के लिए विभिन्न तरीकों का उपयोग करें)
पहले दिन से, अपने पाठकों को ईमेल अपडेट भेजना शुरू करें या सब्सक्राइबर कहें, लेकिन ध्यान रखें कि उन ईमेल को परेशान नहीं करना चाहिए।
जैसे ही आपको लगता है कि ईमेल मार्केटिंग आपके लिए अच्छा काम कर रही है, तो अपने ईमेल मार्केटिंग के लिए किसी प्रीमियम ईमेल टूल या सेवा का उपयोग करें।
10.            Online PR
Online PR
एक ऐसा तरीका है जिसके इस्तमाल से Online Coverage को secure किया जाता है digital publications, blogs, और दुसरे content-based websites से. ये traditional PR के जैसे ही होते हैं लेकिन बस online space में.
एप्स मार्केटिंग (Apps Marketing)
इंटरनेट पर अलग-अलग ऐप्स बनाकर लोगों तक पहुंचाने और उस पर अपने उत्पाद का प्रचार करने को ऐप्स मार्केटिंग कहते हैं यह डिजिटल मार्केटिंग का बहुत ही उत्तम रस्ता है। आजकल बड़ी संख्या में लोग स्मार्ट फ़ोन का उपयोग कर रहे हैं बड़ी-बड़ी कंपनी अपने एप्स बनाती हैं और एप्स को लोगों तक पहुंचाती है।
क्या Digital Marketing का इस्तमाल सभी Business में किया जाता है? B2B और B2C?
Digital marketing किसी भी business में और किसी भी industry में काम करता है. चाहे आपकी company कुछ भी sell कर रही हो, digital marketing के मदद से आप अपने Consumer को समझ सकते हैं, उनकी जरूरतों को समझ सकते हैं और finally उनके जरुरत अनुसार Online Content तैयार कर सकते हैं.

·         B2B के लिए
अगर आपकी Company B2B है, तो आपके digital marketing में मुख्य काम online lead generation को लेकर ही होगा, जिसमें finally आपको किसी salesperson के साथ बात करना होगा. इसी कारण यहाँ आपके marketing strategy कुछ ऐसा होना चाहिए की जो की ज्यादा से ज्यादा quality leads को आपके salesperson के लिए जुटाए via आपके website और supporting digital channels के माध्यम से.

·         B2C के लिए
अगर आपकी Company B2C है, तो आपके digital marketing में मुख्य काम होगा की आप ज्यादा से ज्यादा लोग अपने Website पर लायें और उन्हें आपके Customer बनाएं बिना किसी Salesperson के जरुरत के.
इसी कारण आपको Lead generation में ज्यादा focus करने की जरुरत नहीं है बल्कि आपको ज्यादा focus किसी भी खरीदार के सफ़र में होनी चाहिए जिसे की वो बड़ी ही आसानी से आपके Website में इधर उधर migrate कर सके और finally अपना purchase कर सके.
इसी कारण B2C companies के लिए channels जैसे की Instagram और Pinterest ज्यादा valuable हैं business-focused platforms LinkedIn की तुलना में.
Digital Marketing के Benefits क्या है?
आपके व्यवसाय के लिए एक डिजिटल मार्केटिंग रणनीति होने से आप अपरिहार्य और आकर्षक ऑनलाइन मार्केटिंग ढांचे का एक गतिशील हिस्सा बन सकते हैं। आइए हम व्यापार के विकास के लिए डिजिटल मार्केटिंग की महत्वपूर्ण भूमिका में खुदाई करें-

रिएक्टर एक्सपोजर

डिजिटल मार्केटिंग उन सभी व्यवसायों को उचित मौका देती है जो ऑनलाइन ब्रांडिंग और विज्ञापन पसंद करते हैं।

वेबसाइट का आवागमन
डिजिटल मार्केटिंग आपको डिजिटल एनालिटिक्स सॉफ़्टवेयर का उपयोग करके वास्तविक समय में आपकी वेबसाइट के पृष्ठ को देखने वाले लोगों की सही संख्या देखने की अनुमति देता है।

सामग्री प्रदर्शन और लीड जनरेशन
डिजिटल मार्केटिंग के साथ, आप यह माप सकते हैं कि कितने लोग उस पृष्ठ को ठीक से देख चुके हैं जहां वह होस्ट किया गया है, और आप उन लोगों के संपर्क विवरण भी एकत्र कर सकते हैं जो इसे प्रपत्रों का उपयोग करके डाउनलोड करते हैं।

एट्रिब्यूशन मॉडलिंग


एट्रिब्यूशन मॉडलिंग डिजिटल मार्केटिंग के लिए एक प्रभावी रणनीति है जो आपको अपने व्यवसाय के साथ ग्राहक के पहले डिजिटल टचपॉइंट पर अपनी सारी बिक्री का पता लगाने की अनुमति देता है। यह आपको उन रुझानों की पहचान करने में मदद करता है जिसमें लोग अनुसंधान करते हैं और आपके उत्पादों को खरीदते हैं जो आपको इस बारे में सूचित निर्णय लेने में मदद करते हैं कि आपकी मार्केटिंग रणनीति के किन हिस्सों पर ध्यान दिया जाए।
किसी दुसरे offline marketing तरीकों के मुकाबले digital marketing से marketers real time में accurate results देख सकते हैं. अगर आपने कभी किसी अख़बार में advertise करी है तब तो आपको ये जरुर पता होगा की ये कह पाना कितना मुस्किल है की कितने लोगों ने वाकई आपके advertisement को देखा है. ये जान पाना भी मुमकिन नहीं है. वहीँ digital markeitng में ये काम बड़ी आसानी से और सही तरीके से किया जा सकता है.
यहाँ मैं आप लोगों को कुछ ऐसे ही उदहारण देकर समझाने की कोशिश करूँगा.
Website Traffic
Digital Marketing
के मदद से ये सही रूप में जानना बिलकुल ही आसान है की कितने लोगों ने आपके दिए हुए ads को देखा है, इस काम में हम कोई digital analytics software का इस्तमाल कर सकते हैं. इससे आप ये भी जान सकते हैं की किस Source से आपके website में सबसे ज्यादा traffic आते हैं और आप उसके अनुसार काम कर सकते हैं.
Content Performance और Lead Generation
यहाँ आप ये सोच सकते हैं अगर आपने कोई product broucher बनाया है और उसे लोगों के letter boxes में भेजा है. तो यहाँ आपको वही दिक्कत और एक बार आएगी की आपको ये पता ही नहीं चलेगा की कितने लोगों ने आपके इस product broucher को खोल के देखा है और कितनों ने नहीं.
यहाँ यदि एक website में आपका एक Broucher होता तब आप ये आसानी से देख सकते हैं की कितने लोगों ने आपके Broucher को खोला और पढ़ा. यहाँ आप इस सभी चीज़ों के बारे में अच्छी तरीके से जान सकते हैं.
Attribution Modeling
ये एक बहुत ही शानदार और effective तरीका है जिसमें की आपको सही tools और technology का इस्तमाल करना पड़ता है जिससे आप अपने customers के सभी

actions को trace कर सकते हैं. इसे हम attribut modelling इसलिए कहते हैं क्यूंकि ये हमें allow करता है ये जानने लिए की मेह्जुदा trend क्या है, किस तरीके से लोग कोई product को research कर रहे हैं. इससे आप ये जान सकते हैं की कोन सी area में आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत है और क्यूँ. इससे आपकी sales भी काफी हद तक बढ़ जाएँगी.
किस प्रकार के Content बनाना सही रहेगा?
आप किस प्रकार के content बनायेंगे ये आपके audience की जरूरतों के ऊपर निर्भर करता है की उन्हें अलग अलग stages में किस प्रकार की जरुरत होती है. आपको आपके audience के goals और challenges को समझना होगा की वो किस तरह से आपके business से सम्पर्कित हैं. आपका ये लक्ष्य होना चाहिए की basic level में आपकी online content उनको उनके Challenges को पार करने में मदद करनी चाहिए.
यहाँ में आप लोगों को कुछ जरुरी चीज़ों के बारे में बताना चाहता हूँ जिससे आपको किसी खरीदार की मानसिकता के बारे में पता चल सके. यहाँ में आप लोगों को कुछ stages के बारे में बताऊंगा जिनके बारे में जानना आपके लिए बहुत जरुरी है.
Awareness Stage
·         Blog posts
ये आपके Organic traffic को बढ़ाने के लिए बहुत ही जरुरी है. यदि इसे Strong SEO और keyword strategy के साथ pair कर दिया जाये तब ये आपकी काफी मददगार साबित हो सकता है.
·         Infographics
ये बहुत ही shareable होते हैं, जिसका मतलब है की Social Media में आपके ज्यादा chance हैं की इस प्रकार के contents को लोग ज्यादा share करें.
·         Short videos
फिर से, ये बहुत ही ज्यादा shareable content होते हैं जिन्हें की Youtube जैसे platform में अगर जगह दी जाये तो ये आपके Brand को ज्यादा से ज्यादा लोगों तब पहुँचाने में काफी मदद करता है.
Consideration Stage
·         Ebooks
ये lead generation प्राप्त करने के लिए एक बहुत ही अच्छा तरीका है क्यूंकि ये बहुत ही ज्यादा comprehensive होता है blog post or infographic की तुलना में, मतलब की कोई भी visitor इसके exchange में आपको अपनी contact information दे सकता है.
·         Research reports
ये बहुत ही high value content piece होते हैं जो की lead generation के लिए बहुत उपयोगी हैं. Research reports और new data आपके industry के लिए बहुत ही ज्यादा जरुरी होते हैं क्यूंकि उन्हें अक्सर media और press वाले चुन लेते हैं.
·         Webinars
ये बहुत ही detailed, interactive form होते हैं किसी भी video content के लिए, webinars बहुत ही ज्यादा effective consideration stage content format होता है क्यूंकि वो बहुत ही ज्यादा comprehensive content होता है किसी blog post or short video के मुकाबले.
Decision Stage
·         Case studies
अगर आपके Website की एक detailed case studies बनती है तब ये आपके खरीदार के लिए effective form of content होती है क्यूंकि इससे उनके decision में positive influence होता है.
·         Testimonials
अगर case studies आपके business को सही तरीके से fit नहीं होता तब
आपके website के लिए short testimonials एक बेहतर alternative है. इससे लोगों को एक comprehensive तरीके से आपके Website और उसके Products के बारे में पता चलेगा.



डिजिटल मार्केटर कैसे बनें?
1. कंटेंट
सबसे पहला गुण है कंटेंट।क्या आप अच्छा कंटेंट लिख सकते हैं? क्या आपको इंग्लिश आती है? क्या आप बिना किसी ग्रामेटिकल मिस्टेक के एक अच्छा कंटेंट लिख सकते हैं? मैं यह नहीं कहता कि आप इंग्लिश के एक्सपर्ट बने। लेकिन आपको इतनी इंग्लिश आनी चाहिए कि आप एक अच्छा कंटेंट लिख सके।

अगर आप यह सोच रहे हैं कि हिंदी में कंटेंट लिख सकते हैं कि नहीं? तो मेरा जवाब है हां, आप जरूर लिख सकते हैं लेकिन हिंदी में लिखने से आपका कंटेंट केवल इंडिया में ही सीमित रहेगा। लेकिन मैं यह नहीं कहूंगा कि आप हिंदी में कंटेंट नहीं लिख सकते। आप चाहें तो हिंदी में भी लिख सकते हैं।

 केपीएमजी के एक रिपोर्ट के मुताबिक 2021 में हिंदी में इंटरनेट यूज करने वाले लोग इंग्लिश 

में इंटरनेट यूज करने वालों से ज्यादा होंगे।एक्सपर्ट्स का यह भी मानना है कि इंटरनेट पर लोग 

हिंदी, तेलुगु, तमिल, और कन्नड़ भाषा समय चलने पर ज्यादा यूज करेंगे।

2. वर्डप्रेस स्किल्स

अगर आपको एक डिजिटल मार्केटिंग सीखना ही है तो आपके पास एक खुद का वेबसाइट होना बहुत जरूरी है। एक Digital Marketer को वर्डप्रेस का ज्ञान होना बहुत जरूरी है। वर्डप्रेस एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जिसकी मदद से आप खुद की वेबसाइट बना सकते हो, ईजिली कंटेंट डाल सकते हो, S.E.O कर सकते हो और बहुत सारी चीज़ें कर सकते हो बिना किसी कोडिंग।


4. ग्राफिक्स डिजाइनिंग

एक Digital Marketer को, एक डिजाइन कैसा हो? उसे कैसे बनाना है? इसकी पन्नख होना बहुत बहुत जरूरी है। इंटरनेट पर ऐसे बहुत सारे टूल्स है जिसकी मदद से आप एक अच्छा ग्राफिक डिजाइन कर सकते हैं उनमें से एक है canva जिसकी मदद से आप ग्राफिक डिजाइन कर सकते हैं। अगर आपको ग्राफिक्स डिजाइनिंग नहीं आती तोह ग्राफिक्स डिजाइन करवाना सीखे। लेकिन एक Digital Marketer  को ग्राफिक्स डिजाइन करने का ज्ञान होना बहुत ज़रूरी है।

आपने यह कहावत तोह सुना ही होगा, "one picture can say a thousand words" है। यानी एक पिक्चर हजारों सब्दो का कमाल कर जाती हैं। तोह  एक Digital Marketer को पिक्चर का ज्ञान होना बहुत जरूरी है।

 5. Analytics skills

अगर एक Digital Marketer नंबर से ना खेले तो मजा ही क्या? जब आप कोई भी डिजिटल विज्ञापन करेंगे तब आपको यह देखना होगा कि उसे कितने लोगों ने देखा?,  उस विज्ञापन पर कितने लोगों ने क्लिक किया ?, कितने लोगों ने इंक्वायरी?, कितने लोग आपके वेबसाइट पर रहे हैं क्या कर रहे हैं?, और भी बहुत कुछ चीजें हैं जिसका आपको ज्ञान होना बहुत ही जरूरी है। इसलिए अगर आपको Digital Marketer बनना हैं तोह डाटा एनालिटिक्स का ज्ञान होना बहुत हीं जरूरी है।


6. पैशन प्रैक्टिस

पांचवां गुण है पैशन जिसे आप कह सकते हैं जुनून। अगर आप में Digital Marketer बनने का जुनून नहीं है तो आप कभी भी एक Digital Marketer नहीं बन पाओगे। मेरा मानना यह है कि जिंदगी में कुछ करना है, कुछ बनना है तो उस चीज का जुनून होना बहुत ही जरूरी है। रास्ते तो अनेक है लेकिन जो अलग रास्ते पर चल सके और लोगों को सही रास्ता दिखा सके उसका तो कोई जवाब ही नहीं।


आपने वह कहावत तो सुना ही होगा ओन्ली प्रैक्टिस मेक मैन परफेक्ट यानी सिर्फ अभ्यास और प्रयास से ही आदमी उत्तम सकता है। डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसा सब्जेस्ट हैं जबतक आप अभ्यास नहीं करेंगे तबतक आप एक अच्छा Digital Marketer नहीं बन पाएंगे।

7. आप कितना नया सीख सकते हैं?

सातवां गुण है कि आप कितना नया सीख सकते हैं? Digital Marketing एक ऐसी इंडस्ट्री है जहां हर रोज कुछ ना कुछ नया होता है। अगर आप हररोज कुछ नया नहीं सीख पाएंगे तोह सायद आप पीछे रह जाएंगे। अगर आपको एक सफल Digital Marketer बनना है तो आपको हमेशा हमेशा के लिए डिजिटल मार्केटिंग का स्टूडेंट बना रहना पड़ेगा। ऐसे बहुत सारी वेबसाइट, articles ओर लोग हैं जिनकी मदद से आप बहुत कुछ सीख सकते हैं

Top डिजिटल marketing उपकरण आपको पता होना चाहिए

हाल के दिनों में, आपको बाज़ार में बहुत सारे डिजिटल मार्केटिंग टूल मिलेंगे और यह जानना थोड़ा मुश्किल होगा कि कहां से शुरुआत करें। प्रत्येक मार्केटिंग टूल को आपके समय और धन के निवेश की आवश्यकता होती है। marketing के लिए सही उपकरण चुनना एक मुश्किल काम है।


What are marketing tools?
डिजिटल मार्केटिंग टूल की आवश्यकता क्यों है?
Top 8 Tools

What are marketing tools?
जब मैं डिजिटल मार्केटिंग कहता हूं, तो कुछ चीजें हैं जो उन उपकरणों के रूप में महत्वपूर्ण हैं जिन पर हम अपना काम करने के लिए भरोसा कर सकते हैं। डेटा इनसाइट्स, कंटेंट और हर दूसरे काम को मैनेज करने के लिए आपके पास सॉफ्टवेयर टूल्स का सही सेट होना चाहिए, डिजिटल मार्केटिंग जरूरी है! सही लोगों के बिना, आप एक ऐसी रणनीति बनाने में सक्षम नहीं होंगे जो लक्षित ग्राहकों तक पहुँचती है और ग्राहक यात्रा के माध्यम से उनका अनुसरण करती है।

प्राथमिक उद्देश्य विभिन्न उपकरणों की सूची प्रदान करना है जो विभिन्न उद्योगों, उत्पादों या सेवाओं के लिए सुविधाओं की तुलना करते हैं। यदि इसे ठीक से उपयोग किया जाता है, तो यह आपके डिजिटल मार्केटिंग प्रभावशीलता को कारगर बनाने में मदद कर सकता है।

ये उपकरण एक रणनीति के रूप में कार्य करते हैं जो सोशल मीडिया की शक्ति का लाभ उठाता है, ट्रैफ़िक को चलाने के लिए खोज इंजन अनुकूलन (एसईओ) का उपयोग करता है और मीडिया विपणन प्रगति का अच्छा उपयोग करता है जो वहां से बाहर हैं।

डिजिटल मार्केटिंग टूल की आवश्यकता क्यों है?
हाल के वर्षों में, बहुत सारे ऑनलाइन विपणन उपकरण हैं, जिन्होंने बाजार में कदम रखा है और यह जानना मुश्किल है कि कहां से शुरू किया जाए। प्रत्येक नए मार्केटिंग टूल को आपके समय और आपकी मेहनत के पैसे के निवेश की आवश्यकता होती है, इसलिए इसे बुद्धिमानी से चुनें। यदि आप अभी गलत चुनते हैं और बाद में किसी अन्य पर स्विच करना समाप्त करना एक परेशानी हो सकती है।

बाजार में वास्तव में उपलब्ध नि: शुल्क उपकरणों का एक विविध मिश्रण है। और माना जाता है कि यह आज डिजिटल मार्केटिंग में काम करने के सुखद पहलुओं में से एक है।

जब मैं उपकरण कहता हूं, तो वे फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से लेकर Google Analytics तक सब कुछ शामिल करते हैं। ये उपकरण मार्केटर्स को अपने ऑन-गोइंग अभियानों के प्रदर्शन को बनाने, परखने और मापने की अनुमति देते हैं। वे यह भी सुनिश्चित करते हैं कि विपणक शीघ्र और प्रभावी तरीके से अभियान शुरू और परीक्षण कर सकते हैं।

अब एक नजर डालते हैं उन टॉप 8 डिजिटल मार्केटिंग टूल्स पर जो आपके संगठन को फायदा पहुंचाने वाले हैं।

Top 8 Tools
टूल्स के बारे में बात करते हुए, मैंने बाजार में शीर्ष 8 डिजिटल मार्केटिंग टूल की सूची बनाई है जो बहुत अधिक मांग वाले हैं। मैंने उन्हें विपणन चैनलों के आधार पर वर्गीकृत भी किया है
HubSpot
हबस्पॉट इनबाउंड सभी चीजों के लिए एक आवश्यक उपकरण है। एसएमए में, हम अपने सीआरएम और सीएमएस के रूप में हबस्पॉट का उपयोग करते हैं, साथ ही ईमेल मार्केटिंग, ब्लॉगिंग, सोशल मीडिया के लिए और लैंडिंग पृष्ठ बनाने के लिए उपयोग करते हैं। आप प्रत्येक उपकरण के डैशबोर्ड के अंदर महत्वपूर्ण KPI भी देख सकते हैं। यदि आप इनबाउंड मार्केटिंग के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो हबस्पॉट अकादमी प्रमाणन पाठ्यक्रमों का एक बड़ा संग्रह प्रदान करती है, जो आपको आपकी मार्केटिंग रणनीति विकसित करने में मदद करने के लिए उपयोगी जानकारी सिखाएगी।

Moz
मोज़ेज़ मुफ्त और सशुल्क एसईओ टूल दोनों का शानदार चयन प्रदान करता है। Moz की मदद से आप आसानी से कीवर्ड रिसर्च, पेज एनालिटिक्स, बैकलिंक एनालिसिस कर सकते हैं और इसमें एक बढ़िया साइट-क्रॉलर भी है। हम मोजर क्रोम प्लगइन का उपयोग करने की अत्यधिक सलाह देते हैं, जो एक बटन के क्लिक पर किसी भी पृष्ठ के लिए त्वरित मैट्रिक्स प्रदान करता है।

Google Analytics
Google Analytics डिजिटल मार्केटिंग स्पेस में किसी के लिए भी होना चाहिए। पहली नज़र में, यह उपकरण थोड़ा उन्नत लग सकता है, लेकिन यदि आप इसका उपयोग अपनी संपूर्ण क्षमताओं के लिए करते हैं, तो आपको इस बात की एक टन जानकारी मिलेगी कि आपके ग्राहक आपकी साइट के साथ कैसे संलग्न हैं। यदि आप Google Analytics की अपनी समझ को बढ़ाना चाहते हैं, तो हम Google Analytics अकादमी की खोज करने की सलाह देते हैं। यह नि: शुल्क पाठ्यक्रमों का एक संग्रह है जो आपको मंच के बारे में जानने के लिए सब कुछ सीखने में मदद करेगा ताकि आप इसका पूरा लाभ उठा सकें।

Screaming Frog SEO
Chilla is an easy-to-use SEO crawling tool यह उपकरण आपकी साइट के बारे में महत्वपूर्ण SEO-संबंधित जानकारी प्रदान करता है जिसे आप डाउनलोड कर सकते हैं और संदर्भ के लिए फाइल पर रख सकते हैं। इसमें HTML, CSS और जावास्क्रिप्ट जैसे उच्च-स्तरीय तत्व शामिल हैं। हम एसईओ को प्रभावित करने वाली किसी भी साइट त्रुटियों की पहचान करने में मदद करने के लिए चीखना मेंढक का उपयोग करना पसंद करते हैं। आप इस टूल को और भी जानकारी के लिए Moz या Google Analytics जैसे अन्य लोगों के साथ लिंक कर सकते हैं।

Canva
पेशेवर दिखने वाले ग्राफिक्स बनाने के लिए कैनवा एक बेहतरीन उपकरण है। आपके अनुभव से कोई फर्क नहीं पड़ता है, आप आसानी से सामाजिक छवियों, सीटीए बटन और इन्फोग्राफिक्स बनाने के लिए इस उपकरण का उपयोग कर सकते हैं। Canva आपको अपनी परियोजना को अनुकूलित करने में मदद करने के लिए टेम्पलेट्स, क्लिप आर्ट और फोंट का एक बड़ा चयन प्रदान करता है। यह उन लोगों के लिए एकदम सही उपकरण है जिनके पास फ़ोटोशॉप या इनडिजाइन जैसे अधिक उन्नत डिज़ाइन प्लेटफार्मों तक पहुंच नहीं है।

Hootsuite
हूटसुइट एक उद्यम-स्तर का सोशल मीडिया प्रबंधन उपकरण है जो उपयोगकर्ताओं को विभिन्न प्रकार के प्लेटफार्मों पर सोशल मीडिया सामग्री को स्टोर और शेड्यूल करने की अनुमति देता है। यह टूल आपके सामाजिक मीडिया सामग्री के प्रदर्शन को ट्रैक करने, रूपांतरणों, ROI की गणना करने और आपके ब्रांड, उत्पाद या सेवा के बारे में सार्वजनिक वार्तालापों को ट्रैक करने में आपकी सहायता कर सकता है। Hootsuite एक सीमित मुफ्त सदस्यता और पेशेवर सदस्यता के लिए एक मुफ्त, 30-दिवसीय परीक्षण प्रस्ताव प्रदान करता है।

BuzzSumo
बज़सुमो एक शोध और निगरानी उपकरण है जो विशिष्ट विषयों के आसपास के रुझानों की पहचान करने में मदद कर सकता है। यह टूल आपको ब्लॉग या सोशल मीडिया विचारों को उत्पन्न करने में मदद कर सकता है, उच्च प्रदर्शन वाली सामग्री बना सकता है, आपके ब्रांड के प्रदर्शन की निगरानी कर सकता है और उन प्रभावशाली लोगों की पहचान कर सकता है जिनके साथ आप साझेदारी करना चाहते हैं। हालाँकि BuzzSumo एक पेड टूल है, लेकिन सब्सक्रिप्शन करने से पहले आप इसे टेस्ट करने के लिए 7 दिन के लिए फ्री में रजिस्टर कर सकते हैं।

सर्टिफिकेट वाला Digital Marketing Course कैसे करें?

क्या आप ऑनलाइन Digital Marketing कोर्स करना चाहते हैं, और आपको अंग्रेजी बिलकुल नहीं आती? कोई बात नहींमै बताऊंगा, कैसे आप इस कोर्स को हिंदी में  फ्री कर सकते हैं, और आपको कोर्स पूरा करने पर सर्टिफिकेट भी मिलेगा! – फ्री  Digital Marketing Course कैसे करे ?

यह बात 100% सत्य है, आने वाले समय में मार्केटिंग के मापदंडों के लिए सबसे ज्यादा Digital Marketing का सहारा लिया जाएगा।  इस तरह से भविष्य में Digital Marketer की भी मांग बढ़ने वाली है!

ऐसे में अगर आपको अपना  भविष्य बनाना हे तो आपको इसे आज से ही सीखना आरंभ कर देना चाहिए।  ताकि आने वालेसमय में आपका हुनर आपको काफी आगे तक लेकर जाए।

यदि आप सोच रहे हो की -
·        मुझे अंग्रेजी भाषा बिलकुल भी नहीं आती है
·        मै कैसे सीख पाऊंगा मुझे तो सिर्फ हिंदी भाषा आती है
·        और वैसे भी, इस कोर्स को करने लिए मेरे पास पैसे भी नहीं है।
तो क्या हुआ अगर आपको अंग्रेजी भाषा नहीं आती, क्या हुआ अगर आपको सिर्फ हिंदी भाषाआती है, तब भी क्या हुआ यार अगर आपके पास एक भी रुपये नहीं हैं।

आज मैं आपको एक वेबसाइट के नाम और काम दोनों बताऊंगा, जो आपको बिल्कुल फ्री और हिंदी में Digital Marketing का कोर्स करायेंगे।

जिनमे Digital Marketing कोर्स पूरा हो जाने के बाद आपको फ्री में सर्टिफिकेट भी प्रदान कराएगा। जिससे आप अपने अपने Bio-Data को और भी मजबूत बना सकते है। और Interview में आपको काफी फायदे का काम करेगा।

वैसे मेने आपको ऊपर बता दिया की डिजिटल मार्केटिंग कितने प्रकार की होती है लेकिन में इसकी चर्चा एक बार फिर करता हूँ -

वैसे तो इसके बहुत से प्रकार (Components) हैं! परन्तु इसके मुख्य प्रकार निम्नलिखित है:

Types of Digital Marketing in Hindi

·        Search Engine Optimization (SEO)
·        Search Engine Marketing (SEM)
·        Social Media Marketing (SMM)
·        Pay-Per-Click (PPC)
·        E-mail Marketing
·        Affiliate Marketing
·        Content Marketing etc.


ये सभी Digital Marketing के मुख्य प्रकार हैं।  जिन्हें ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग में लाया जाता है। 

दोस्तों डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के लिए सबसे बेस्ट वेबसाइट Google Digital Unlocked है।
Google Digital Unlocked क्या हैं?
यह एक ऐसी जगह है जहां पर आप अपने Skill को बढ़ा सकते हैं।  इसे Google ने इसे MEIT के सहयोग से एक प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया!

इसका मुख्य उद्येश्य भारत में Digital Awareness को बढ़ावा देना, छोटे व्यापार को Online आने की शिक्षा देना और इसके साथ-साथ Startup को भी प्रोत्साहित करना है।

इसकी शुरुआत वर्ष 2017 में ही कर दी गयी थी, जब Google के CEO सुन्दर पिचाई (Sundar Pichai) भारत आये थे।  यह भारत में छीटे व्यापार और उद्यमी को बढ़ावा देने के लिए एक Training Programme है।

Google Digital Unlocked कैसे काम करता है?
Google Digital Unlocked, Google के डिजिटल गैराज का एक हिस्सा है, जो Google द्वारा लघु और मध्यम आकार के व्यवसायों को ऑनलाइन मार्केटिंग की मूल बातें सीखने और इंटरनेट पर अपनी ऑनलाइन उपस्थिति बढ़ाने या अपने व्यवसाय को ऑनलाइन लेने में मदद करने के लिए की गई एक पहल है।

फ़िलहाल यहाँ पर लगभग 126 Courses उपलब्ध हैं! आप चाहे तो इनमे से किसी को भी बिना किसी शुल्क के सीख सकते हैं!
आपको प्रत्येक कोर्स के सभी चैप्टर में Video Tutorial के द्वारा समझाया जाता है!


हर चैप्टर के ख़त्म होने से पहले आपके ज्ञान (Knowledge) की जांच करने के लिए Quiz दिया जाता है!
और अंत में, सभी Chapter के ख़त्म हो जाने के बाद आपकी परीक्षा (Examination) ली जाती है! जिसमे 40 सवाल (Questions) होते हैं।

परीक्षा में उतीर्ण  करने के पश्चात् ही आपको एक Certificate दी जाती है।  और इस सर्टिफिकेट को अपने Resume में लगा सकते हैं।  जिससे आपका Resume और भी बेहतर हो जाता है।
चेतावनी: यह Certificate सभी प्रकार के Course के लिए उपयुक्त (Applicable) नहीं है! फिलहाल यह आपको केवल Fundamentals of digital marketing course में उत्तीर्ण करने पर दिया जाता है।

आप यहाँ से ये Skills सीख सकते हैंजैसे की,

·        Email Marketing
·        Web Optimization
·        Search Engine Optimization
·        E-commerce
·        Search Engine Marketing
·        Business Strategy etc.

जरा सोचिये, अगर आप इनमे से किसी भी 5 Skills को सीख लेते हैं तो क्या होगा..?

इसका सिर्फ एक ही पर जबरदस्त जवाब है, आप बड़ी आसानी से Online Marketing कर पायेंगे।

यहाँ पर कितने कोर्स उपलब्ध है?

Digital Unlocked पर आपको फ़िलहाल लगभग 126 + Courses उपलब्ध हैं! सभी Online Marketing से सम्बंधित हैं! और इन्हें सीखने के लिए आपको कोई भी शुल्क नहीं देनी पड़ेगी!

कुछ मुख्य कोर्स इस प्रकार से हैं,

·        fundamental of digital marketing
·        get a business online
·        make sure customer find you online
·        promote a business with online advertising
·        expand the business to other countries
·        connect with a customer over mobile
·        promote business with content
·        understand customers need and online behaviors
·        build confidence with self-promotion
·        how to enhance and protect your online campaign
·        land your next job
·        understand the basic of code
·        how to increase productivity at work
·        understand the basic of machine learning
·        improve your online business security
·        intro of digital wellbeing
·        effective networking
·        business communication
·        communicate your ideas through storytelling and design
·        speaking in public
·        organizational design now your organization
·        the science of well being
·        social psychology
·        Google cloud platform fundamental
·        Google cloud platform big data and machine learning fundamental


ये कुछ मुख्य कोर्स हैं! इनके अलावा और भी दिलचस्प कोर्स Google Digital Unlocked पर उपलब्ध हैं।

Digital Marketing Certificate कैसे मिलेगा?
अगर आप ये सोच रहे हैं, की यह Certificate आपको आसानी से मिल जाएगा। हाँ मिल तो जायेगा लेकिन आप थोड़ा जल्दीबाजी कर रहे हैं!

मेरे कहने का मतलब है की यह कोई Normal Certificate नहीं है, जो आपको इतनी आसानी से मिल जाएगा! इसके लिए आपको थोड़ी मेहनत तो करनी ही पड़ेगी!

आपके फायदे के लिए,

बिलकुल आप इस Certificate को हासिल करिए।  लेकिन दिखाने के लिए नहीं, बल्कि ज्ञान अर्जित करने के लिए।  तभी यह आपके काम आएगा, अन्यथा कोई फायदा नहीं है!

इसीलिए इसे पुरे मेहनत से हर एक चीज को भली-भाँती समझकर पढ़िए, ताकि आपका ज्ञान आपको आगे तक लेकर जाए

Certificate प्राप्त करने का प्रोसेस,

इस सर्टिफिकेट को हासिल करने के लिए सबसे पहले आपको “Fundamentals of digital marketing” कोर्स को पूर्ण मन लगाकर पूरा करना होगा।

कोर्स को पूरा करने के बाद आपको एक परीक्षा देनी पड़ेगी, जिसमे कुल 40 प्रश्न  शामिल होंगे। यदि आप उस परीक्षा में उत्तीर्ण हो जाते हैं, तो आपको वह Certificate दे दिया जाएगा। आपको मिला हुआ सर्टिफिकेट कुछ इस प्रकार का होगा।



यह सर्टिफिकेट आपके बहुत काम आएगा। यह इस बात का प्रमाण होगा की, आपने Digital Marketing Course कर रखा है! और आपको इसकी बहली-भाँती ज्ञान है।

No comments:

Post a Comment