Breaking

Tuesday, September 17, 2019

What Is An Extranet

What Is An Extranet


हेलो दोस्तों एक बार फिर से स्वागत लोकल नॉलेज में, दोस्तों कंप्यूटर की नेटवर्किंग दुनिया में आपने यह नाम तो सुने ही होंगे internet, intranet और  Extranet और इन तीनों में अंतर करना बहुत ही मुश्किल काम लगता है आपको, लेकिन वास्तव में यह कोई मुश्किल काम नहीं है।  बहुत ही कॉमन अंतर है इन दिनों में आज हम बात करेंगे internet, intranet  और extranet में क्या फर्क होता है।  तो आइए जानते हैं क्या होता है, extranet 

What Is An Extranet


दोस्तों आप किसी कंपनी, किसी स्कूल, संस्थान या कोई ऑर्गेनाइजेशन मैं काम करते होंगे, वहां पर आप यह तीनों नाम internet, intranet और extranet  सुना ही होगा, लेकिन इनमें कंफ्यूज बहुत रहता है कि किसके बारे में बात की जा रही है।  तो हम जानते हैं सबसे पहले कि इंटरनेट क्या होता है ? दोस्तों बता दूं इंटरनेट के बारे में आप अच्छी तरह से जानते होंगे यह एक पब्लिक नेटवर्क होता है जो दुनिया के लाखों करोड़ों कंप्यूटरों को एक साथ जोड़कर रखता है, सूचनाओं का आदान प्रदान करने के लिए काम में आता है।  लेकिन extranet  कुछ हटकर होता है। 

आपको में एक्सट्रानेट को एक उदहारण से समझाता हु , जैसे मन लो एक बहुत बड़ी कम्पनी है उसमे काम करने वाले हजारो एम्पलॉय है तो वह सब इंटरनेट का उपयोग तो करते ही है ना तो जो एम्पलोयर जिस इंटरनेट का उपयोग करते है वह intranet होता है न की internet होता है। क्योंकि बड़ी कम्पनीज़ हमेशा एक प्राइवेट network का उपयोग करती है। और इस प्राइवेट नेटवर्क को intranet खा जाता है। 

परन्तु मन लो यदि कोई व्यक्ति उसी कम्पनी में काम करता है, और वह जिस network का प्रयोग करता है वह तो intranet है और जब वह उसी कम्पनी में अपने ऑफिस में जिस network एक्सेस का उपयोग करता है उसे extranet खा जाता है। 

मतलब यदि वह घर पर भी काम करना चाहता है तो वह extranet एक्सेस  उपयोग करेगा। 

कहने का मतलब ये हुवा की सिक्योरिटी बहुत ही ज्यादा होती है extranet के अंदर, परन्तु इंटरनेट एक प्राइवेट नेटवर्क होता है इसलिए इसको कोई भी use कर सकता है। और intranet भी संघटन network होता है इसलिए इसको पूरी कम्पनी के सभी सदस्य उपयोग कर सकते है।

internet: इस नेटवर्क पर किसी भी प्रकार की जानकारी कोई भी व्यक्ति ले सकता है क्योंकि ये पब्लिक  network होता है। 

intranet: intranet का उपयोग किसी कम्पनी का मैनेजर अपने एम्प्लॉयर्स को किसी प्रकार का मैसेज या संदेस भेजने, उनसे ग्रुप में बाते या कम्पनी से जुड़ी जानकारी shair करने के लिया किया जाता है। क्योंकि ये प्राइवेट नेटवर्क होता है। इस प्रकार के नेटवर्क को कोई भी उस कम्पनी के बाहर से एक्सेस नहीं कर सकता यही खूबी है intranet की और इसमें सिक्योरिटी बहुत ही अच्छी होती है। 

extranet:  एक्स्ट्रानेट को सही से समझने के लिए मान लेते हैं दो कंपनियां है, एक जयपुर में और एक जोधपुर में, उन दोनों कंपनियों में इंटरनेट का प्रयोग होता है तो वह वहीं पर काम कर सकता है, जयपुर और जोधपुर वाली कंपनियों को नहीं जोड़ सकता।  और यदि बहुत सारे डेटा ऐसे होते हैं जो जयपुर वाली कंपनी को जोधपुर वाली कंपनी में उपयोग में लेना है तो वह कैसे लेगा ?  इसके लिए extranet  का उपयोग किया जाता है। और जो कंपनी मैनेजर होता है वह एक आईडी और एक पासवर्ड जनरेट करता है और वह आईडी और पासवर्ड एक दूसरे को शेयर कर देते हैं, ताकि उसका उपयोग करके और डाटा को एक्सेस कर सके इसे ही extranet  का जाता है। 

     दोस्तों में उम्मीद करता हूं कि यह  पोस्ट आपको  अच्छी तरह से समझ आ गई, अगर पोस्ट अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। 

No comments:

Post a Comment