Breaking

Monday, September 16, 2019

Computer Types

Computer Types

नमस्कार दोस्तों, आज हम बात करेंगे computer कितने प्रकार के होते हैं? अक्सर यह देखा जाता है कि यह question हर व्यक्ति के मन में होता है, कि computer कितने प्रकार के होते हैं।  अगर आपको जानना है कि computer कितने प्रकार के होते हैं तो आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें, आपको बिल्कुल सही एवं सटीक जानकारी दी जाएगी। अगर आपके मन में कोई सवाल होता है तो आप कमेंट बॉक्स में बताना या आप और कोई नए कंप्यूटर के बारे में जानते हो तो भी बताना।  तो आइए जानते हैं computer कितने प्रकार के होते हैं?

सामान्यतया कंप्यूटर चार प्रकार के होते हैं जो निम्न प्रकार हैं। 

1.Microcomputers (personal computers)
2.Minicomputers (midrange computers)
3.Mainframe computers

4.Supercomputers


1.Microcomputers (personal computers)

Microcomputer


दोस्तों एक सामान्य जानकारी के लिए आपको बता दूँ लगभग 20 वीं शताब्दी के end   microcomputer सबसे common प्रकार का कंप्यूटर बन गया। "microcomputer " शब्द को single chip माइक्रोप्रोसेसरों पर आधारित प्रणालियों के आगमन के साथ पेश किया गया था। सबसे famous  प्रारंभिक प्रणाली 1975 में शुरू की गई Altair  8800 थी। "microprocessors" शब्दpractically रूप से एक रफ़्तार (speed)बन गया है।


Microcomputers में निम्न  computers   शामिल हैं। 

Desktop compute

Desktop compute

Desktop compute - एक studay के आधार पर इसको  डेस्क पर रखा जाता है। उपयोग के आधार पर इसका performance वैकल्पिक हो सकता है। आवश्यक विस्तार स्लॉट्स के आधार पर केस का आकार कुछ अलग हो सकता है। इस टाइप  के बहुत छोटे कंप्यूटरों को मॉनिटर में मिलाया जा सकता है। यह computer use करने में आसान भी होते है। 


Rackmount computers

Rackmount computers


Rackmount computers - इस प्रकार के computer लगभग  19 इंच के रैक में फिट हो सकते हैं, और यह  space-optimized और बहुत सरल हो सकते हैं। इस प्रकार के computer में dedicated display, कीबोर्ड और माउस मौजूद नहीं हो सकता है, लेकिन console एक्सेस प्राप्त करने के लिए एक KVM switch या इसके साथ ही रिमोट कंट्रोल  का उपयोग किया जा सकता है।


Carpoint computer


Carpoint computer - इस प्रकार के computer मनोरंजन, नेविगेशन, आदि के लिए ऑटोमोबाइल में प्रयोग करने के लिए बनाया गया है।


Game console -केवल मनोरंजन के साधन के रूप में प्रयोग किया जाता है।  


Laptops and notebook computer - पोर्टेबल use के लिए है। 

Tablet computers- यह computer लैपटॉप की तरह है लेकिन इसमें टच-स्क्रीन के साथ, पूरी तरह से नई तकनीक का इस्तेमाल किया गया है जिसमे keyboard नहीं है। 


Program calculator - छोटे हाथ  रखने वाले कंप्यूटर हे जो केवल  गणितीय कार्य के लिए उपयोगी है। 

2.Minicomputers (midrange computers)

Minicomputers

Minicomputers सामान्य बोलचाल में, मिनी खा जाता हे।  बहु-उपयोगकर्ता कंप्यूटरों का एक असा वर्ग है जो computing ispectrum  की मध्य श्रेणी में सबसे छोटे मेनफ्रेम कंप्यूटर और सबसे बड़े single उपयोगकर्ता सिस्टम (माइक्रो कंप्यूटर या पर्सनल कंप्यूटर) के बीच में स्थित है।  supermini  शब्द का प्रयोग ज्यादा  शक्तिशाली minicompactors को अलग करने के लिए किया गया था, जो क्षमता में मेनफ्रेम के निकट थे।

 सुपरमाइनीज़ computer सामान्यतः 32-बिट थे जब अधिकांश minicompoints(जैसे pdp  -11 या डेटा जनरल एक्लिप्स या  IBM सीरीज 16-बिट थे। 20 वीं शताब्दी के पिछले कुछ दशकों में ये पारंपरिक minicomputer छोटे -आकार के व्यवसायों, प्रयोगशालाओं और अस्पताल कैट स्कैनर्स में पाए जाते हैं, 

minicomputer  दूसरा नाम  मिडरेंज कंप्यूटर है। 


3.Mainframe computers

Mainframe computers

mainframe computer  कोबनाने के पीछे मुख्य कारण  पारंपरिक, बड़े, संस्थागत कंप्यूटर को छोटे, single  उपयोगकर्ता मशीनों से कई उपयोगकर्ताओं को आसानी से सेवा देने के लिए बनाया गया था। ये कंप्यूटर बहुत बड़ी मात्रा में डेटा को जल्दी से संभालने और संसोधित करने में सक्षम हैं। अर्थात कहा  जा सकता ही की इन computers की capacity ज्यादा है। mainframe computer  का उपयोग बड़े संस्थानों जैसे कि सरकार, बैंकों और बड़े निगमों में किया जाता है। उन्हें MIPS (प्रति सेकंड मिलियन निर्देश) में मापा जाता है और एक समय में सैकड़ों लाखों उपयोगकर्ताओं को जवाब दे सकता है।

सामान्य भाषा में अगर कहा जाए तो मेनफ्रेम कंप्यूटर बहुत ज्यादा डाटा को एक साथ स्टोर कर सकता है तथा कहीं कंप्यूटर को एक साथ जवाब दे सकता है। 

4.Supercomputers

Supercomputers


एक supercomputer किसी भी प्रकार की मौसम की पूर्व जानकारी आसानी से बता सकता है। तथा इसके साथ  weather information, परमाणु सिमुलेशन, सैद्धांतिक खगोल भौतिकी और बहुत ही कठिन वैज्ञानिक गणना जैसे- गहराई से  संख्यात्मक गणना से संबंधित कार्यों को करने पर केंद्रित है। 

एक सुपर कंप्यूटर एक कंप्यूटर है जो current processing क्षमता में आगे की पंक्ति में है। , विशेष रूप से इस computer की गणना बहुत ही फ़ास्ट है। सुपरकंप्यूटर शब्द ही तरल है, और आज के सुपर कंप्यूटर की गति कल के साधारण कंप्यूटर की विशिष्ट बन जाती है।

 Supercomputer processing speed को फ्लोटिंग पॉइंट ऑपरेशन्स प्रति सेकंड या FLOPS में मापा जाता है।

 फ्लोटिंग पॉइंट ऑपरेशन का एक उदाहरण यह है की  वास्तविक संख्याओं में गणितीय समीकरणों की गणना करना । कम्प्यूटेशनल क्षमता, स्मृति आकार और गति, बहुत ही ज्यादा है। 

No comments:

Post a Comment